11th August 2020

Bundeli News

www.bundelinews.com

31 मार्च तक जिले में लाकडाउन रहेगा

31 मार्च तक जिले में लाकडाउन रहेगा

कलेक्टर श्रीमती हर्षिका सिंह ने बताया है कि नोवल कोरोना वायरस के संक्रमण से स्वास्थ्य एवं जीवन की सुरक्षा के खतरे की उत्पन्न हुई स्थिति के मद्देनजर 31 मार्च 2020 तक संपूर्ण जिले में धारा 144 लगायी गयी है। इसी तारतम्य में 31 मार्च 2020 तक संपूर्ण जिले में लोगडाउन रहेगा। इस दौरान सभी शासकीय, अशासकीय कार्यालय एवं सभी व्यवसायिक संस्थान पूर्णत: बंद रहेंगे।
इस दौरान आमजन की सुबिधा हेतु सब्जी, फल, दूध, किराना तथा आवश्यक सामग्री की दुकानें 23 मार्च 2020 से 31 मार्च 2020 तक प्रातः 7:00 बजे से 11:00 बजे तक ही खुलेंगी, इसके पश्चात पूर्णतः बंद रहेगा। इसके अलावा मंडी भी 31 मार्च 2020 तक बंद रहेगी। इस दौरान सामान लेने घर से एक ही व्यक्ति बाहर निकले। साथ ही 10 वर्ष तक के बच्चे तथा 60 वर्ष से अधिक उम्र के लोग घर से बाहर नहीं निकलेंगे। सभी लोग घर पर ही रहें, किसी भी कारण से घर से बाहर न निकलें।

साथ ही दिगौड़ा, बड़ागांव धसान, बम्हौरीकला तथा चंदेरा में जिले से बाहर से आने वाले सभी लोगों की बेसिक स्क्रीनिंग की जाएगी, यदि व्यक्ति सर्दी जुखाम/फ्लू से पीड़ित पाया जाता है तो वह आइसोलेशन वार्ड में रखा जाएगा।

▪जिले में तत्काल प्रभाव से पूर्ण लॉकडाउन घोषित किया जाता है, पूर्ण लॉकडाउन में किसी भी व्यक्ति को अपने घर से बाहर निकलने की अनुमति नहीं होगी।
▪जिले के समस्त शासकीय/अर्द्धशासकीय कार्यालय बंद किये जाते हैं। मेडिकल दुकान और अस्पताल को छोडकर शेष समस्त व्यवसायिक प्रतिष्ठान बंद किये जाते हैं।
▪अति आवश्यक सेवाएं जैसे- राजस्व, स्वास्थ्य, पुलिस, विद्युत, पेट्रोल तथा डीजल पंप, दूरसंचार, नगर पालिका, पंचायत आदि इससे मुक्त रहेंगे। अन्य सभी कार्यालय तत्काल प्रभाव से बंद किये जाते हैं।
▪जो व्यक्ति इस दौरान टीकमगढ़ जिले की सीमा में आये हों तथा जिन्हें सर्दी, खांसी अथवा बुखार जैसे लक्षण का आभास हो रहा हो, उनकी वैधानिक जिम्मेदारी है कि वे अपने निकटतम शासकीय अस्पताल अथवा थाना/तहसील को सूचित करें। यदि अन्य स्त्रोतों से ऐसी सूचना प्राप्त होती है और जांच करने पर संबंधित व्यक्ति द्वारा जानबूझकर जिले की सीमा से बाहर से आने के बारे में जानकारी छिपाई जाती है, तो संबंधित व्यक्ति के विरुद्ध एफआईआर दर्ज कराकर दण्डात्मक कार्यवाही की जावेगी।
▪जिन व्यक्तियों को मेडिकल जांच उपरांत होम क्वेरेन्टाइन (घर में 14 दिवस तक रहना) हेतु निर्देशित किया जाता है, उन्हें किसी भी परिस्थिति में 14 दिवस तक घर से बाहर निकलने की अनुमति नहीं होगी।
*उक्त प्रतिबंध निम्नलिखित परिस्थितियों में शिथिल रहेंगे-*
▪घर-घर जाकर दूध बांटने वाले दूध विक्रेता सुबह 7.00 बजे से 11:00 बजे तक पूर्ण लॉकडाउन प्रतिबंध से मुक्त रहेंगे।

*आमजनो से अपील है लोकहित में स्वेच्छा से अपना सहयोग शासन प्रशासन को प्रदान करें।*

*कलेक्टर एवं ज़िला दंडाधिकारी*
*टीकमगढ़*