20th January 2021

Bundeli News

www.bundelinews.com

शिक्षा के मंदिर में प्राचार्य दे रहे कोरोना नियम तोड़ने का संदेश…

शिक्षा के मंदिर में प्राचार्य दे रहे कोरोना नियम तोड़ने का संदेश

विना मास्क पहने कार्यक्रम में रहे मौजूद

पलेरा शासकीय महाविद्यालय में उड़ाई सोशल डिस्टेंस की धज्जियां

सददाम राईनपलेरा।। वर्तमान में कोरोना का जबरदस्त संक्रमण काल चल रहा है। ऐसे में शासन प्रशासन द्वारा विभिन्न तरीकों से जनता को कोविड नियमो का पालन करने की शिक्षा दी जा रही। लेकिन जब शिक्षा के मंदिर में प्राचार्य द्वारा ही कोविड नियमो का पालन न किया जाए तो ऐसे में दूसरों को क्या शिक्षा मिलेगी। ऐसा ही कुछ हुआ शिक्षा के मंदिर पलेरा शासकीय महाविद्यालय में, जहां महाविद्यालय के प्राचार्य आरपी तिवारी द्वारा खुलेआम सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ाई गई, साथ ही प्राचार्य श्री तिवारी द्वारा स्वयं मास्क भी नही लगाया गया।
एक तरफ कलेक्टर के द्वारा निर्देश दिए गए हैं कि कोविड नियमो का पालन न करने बालो और मास्क न पहनने बालो के विरुद्ध राजस्व विभाग और पुलिस की संयुक्त कार्यवाही की जाए जिससे कोरोना संक्रमण रोका जा सके लेकिन पलेरा शासकीय महाविद्यालय में प्राचार्य आर.पी. तिवारी और शासकीय महाविद्यालय में पदस्थ शिक्षकों के द्वारा सोशल डिस्टेंस की धज्जियां उड़ाई गई और वहीं पर प्राचार्य सहित कुछ लोग बिना मास्क के भी दिखाई दिए जिससे यह पता चलता है कि पलेरा शासकीय महाविद्यालय के प्राचार्य कोविड नियमो के प्रति स्वयं कितने लापरवाह है। क्योंकि यदि शिक्षक ही सोशल डिस्टेंस की धज्जियां उड़ाये तो फिर उन से शिक्षा लेने वाले स्टूडेंट पर इसका क्या असर पड़ेगा, इसका आसानी से अंदाजा लगाया जा सकता है। क्योंकि जब प्राचार्य ही सोशल डिस्टेंस के बिना और बगैर मास्क पहने हुए इस प्रकार के कार्यक्रम करेंगे तो फिर जायज सी बात है कि उनसे शिक्षा लेने वाले छात्र भी बिना मास्क पहने सोशल डिस्टेंस की धज्जियां उड़ायेगे। जबकि पुलिस प्रशासन और राजस्व विभाग के द्वारा निरंतर थाना परिसर के सामने और बाजार में जाकर रोको टोको अभियान के तहत गरीब लोगों के जमकर चालान काटे जा रहे हैं। अब देखना होगा कि इस खबर को देखने के बाद प्राचार्य महोदय और फोटो में देखने वाले शिक्षकों पर चालानी कार्यवाही की जाती है या नही???….