11th August 2020

Bundeli News

www.bundelinews.com

पुलिस और विधायक की पनाह में पलता अपराध भाजपा नेता ने लगाया हत्या कराए जाने के षड्यंत्र का आरोप

पुलिस और विधायक की पनाह में पलता अपराध
भाजपा नेता ने लगाया हत्या कराए जाने के षड्यंत्र का आरोप
लोकेन्द्र सिंह परमार, सत्तार बाबा खान
निवाड़ी/टीकमगढ़। जब लोगों की जिंदगी बचाने वाले पुलिस कोतवाल, विधायक अपराधियों से मिलकर षड्यंत्र रचने लगे तो सुरक्षा और न्याय की उम्मीद करना बेमानी होगा। भाजपा विधायक की आंखों की किर किर बने हुए हैं भाजपा के ही अमित राय। मजे की बात तो यह है कि पुलिस, अपराधी और विधायक कि यह तिगड़ी एक के बाद एक प्रहार कर अमित राय के लिए मुश्किलें खड़ी करते आ रहे हैं। दहशत में जी रहे अमित राय के परिवार ने आला अधिकारियों से न्याय की गुहार लगाई है
भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य किसान मोर्चा अमित राय ने पुलिस अधीक्षक को आप बीती सुनाते हुए दोषियों के खिलाफ  कार्रवाई किए जाने की गुहार लगाई है। दहशत और भय के बीच रहने वाले अमित राय जीजौरा का कहना है कि थाना प्रभारी ओरछा विनायक शुक्ला और झांसी के भगवंतपुरा का कुख्यात अपराधी रमेश खंगार निवाड़ी विधायक के साथ मिल कर उनकी हत्या कराने का कुचक्र रचने में लगी है। यूपी का यह शातिर अपराधी अब तक अनेक संगीन वारदातों को अंजाम दे चुका है। थाना प्रभारी विनायक शुक्ला द्वारा अभद्रता करने और अनावश्यक दबाव बनाने का कार्य किया जा रहा है। उन्होंने कहा है कि थाना प्रभारी विनायक शुक्ला विधायक अनिल जैन और शातिर अपराधी रमेश खंगार निवासी भगवानपुरा कि यह तिकड़ी उनकी हत्या करने का जाल बुन रहे हैं। इस संबंध में की जाने वाली फ रियादी का आला अधिकारियों पर अब तक खास असर नहीं है। उन्होंने बताया कि विधायक अनिल जैन भगवंतपुरा झांसी निवासी रमेश खंगार को संरक्षण देते आ रहे हैं। कुछ ही दिनों पहले उसी के वाहन से भोपाल भी आए थे। भाजपा नेता श्री राय ने कहा कि थाना प्रभारी विनायक शुक्ला और उनके एक रिश्तेदार की कॉल डिटेल निकलवाने से उनके शातिर अपराधी रमेश खंगार से संबंधों का का पर्दाफाश हो जाएगा। यह तिगड़ी उन्हें फर्जी मामलों में फं साने का षड्यंत्र रचते आ रहे हैं। उन्होंने बीते रोज निवाड़ी पुलिस अधीक्षक को लिखित आवेदन देकर सुरक्षा दिलाने और दोषियों पर कार्यवाही करने की मांग की है। भाजपा नेता अमित राय का कहना है कि उनकी छवि धूमिल कराने यह तिगड़ी पीछे नहीं है। आए दिन दी जा रही धमकियों और शिकायतों के कारण उनका परिवार भी तनाव में हैं। उन्होंने कहा कि यूपी  के रहने वाले थाना प्रभारी विनायक शुक्ला के रिश्तेदार पर भी 67 मामले दर्ज हैं। इनमें धोखाधड़ी, आम्र्स एक्ट, हत्या का प्रयास, गुंडा एक्ट समेत अन्य संगीन मामले दर्ज हैं इसके साथ ही शातिर आरोपी रमेश खंगार पर हत्या के अलावा अन्य संगीन अपराध दर्ज हैं। उन्होंने कहा है कि राजनीतिक संरक्षण और पुलिस से चले आ रहे संबंधों के चलते रमेश खंगार के हौसले बुलंद है। भाजपा नेता अमित राय निवासी जीजौरा द्वारा का कहना है कि यदि उनके साथ किसी भी प्रकार की अप्रिय घटना होती है, तो इसके लिए विधायक अनिल जैन, थानेदार विनायक शुक्ला और शातिर आरोपी रमेश खंगार जिम्मेदार होंगे। उनके द्वारा दिये गये आवेदन पर पुलिस अधीक्षक निवाड़ी वाहिनी संघ ने उचित कार्रवाई किए जाने का आश्वासन दिया है।

भाजपा की संरक्षण में शातिर आरोपी रमेश
शातिर आरोपी रमेश खंगार पर हत्या सहित 19 संगीन मामले दर्ज हैं। भगवानपुरा झांसी निवासी इस अपराधी को भाजपा विधायक अनिल जैन और ओरछा टीआई विनायक शुक्ला द्वारा बनाए दिए जाने से अब अपराध की बेले मध्य प्रदेश के ओरछा और निवाड़ी क्षेत्र में भी फैलने लगी है। किसान मोर्चा राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य अमित राय ने बताया कि इस अपराधी द्वारा वर्ष 2000 में हत्या की वारदात को अंजाम दिया। इतना ही नहीं इसके द्वारा अन्य वारदातों को अंजाम दिया गया। इस शातिर आरोपी पर धारा 2/3 गैंगस्टर एक्ट का मामला भी पंजीकृत है। पर सवाल यह उठता है कि ऐसे कुख्यात आरोपी को भाजपा और पुलिस अपनी संरक्षण क्यों दिए हुए हैं।

पुरानी रंजिश बना विवाद का कारण
भाजपा किसान मोर्चा के पदाधिकारी अमित राय ने स्वयं की हत्या कराए जाने की आशंका व्यक्त करते हुए निवाड़ी एसपी को एक ज्ञापन सौंपा है। जिसमे कहा गया कि यूपी का हिस्ट्रीशीटर रमेश खंगार द्वारा मेरी व मेरे परिवार की हत्या कराई जा सकती है। एबं रमेश खंगार को क्षेत्रीय विधायक एबं ओरछा टीआई द्वारा संरक्षण दिया जा रहा है। अमित राय ने उक्त मामले की निष्पक्ष जांच कर दोषियों के खिलाफ  कार्यवाही किये जाने एबं अमित राय व परिवार की सुरक्षा का इंतजाम किए जाने की मांग की है। ज्ञात हो कि रमेश खंगार एबं अमित राय के बीच पूर्व में भी गम्भीर विवाद हो चुका है जिसमे दोनों पक्षों ने एक दूसरे पर गम्भीर आरोप लगाये थे।

इनका कहना है
वही इस संबंध में निवाड़ी पुलिस अधीक्षक कहा की अमित राय द्वारा दिए गए आवेदन की अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक से जांच करवा रही हूं। मामले में निष्पक्ष रुप से जांच के बाद उचित कार्यवाही की जाएगी।
वाहिनी सिंह, पुलिस अधीक्षक, निवाड़ी म.प्र.